Amatrik Shabd Vakya Worksheet PDF

अमात्रिक शब्द या ‘अ’ की मात्रा – Amatrik Shabd ‘A’ ki matra, Vakya, Worksheet PDF

 

अमात्रिक शब्द ( Amatrik Shabd or A’अ’ ki matra ke Shabd aur Worksheet )

 

हिंदी लेखन व पठन में अमात्रिक शब्दों का प्रयोग बहुत ही महत्वपूर्ण है। अमात्रिक शब्दों का तात्पर्य ‘अ’ की मात्रा वाले शब्द। ये शब्द सामान्यतः व्यंजन पर बिना कोई मात्रा लगाकर बने होते हैं। ये छोटे व सरल होते हैं। अमात्रिक शब्द बच्चे में अक्षरों की पहचान स्थिर करने, व उनका बेहतर प्रयोग और उच्चारण करने में मदद करते हैं। अमात्रिक शब्द बच्चों में पढ़ने में रुचि बनाए रखते हैं, और उनका आत्मविश्वास में भी बढ़ोतरी करते हैं।

 

उद्देश्य ( Objectives) –


• विद्यार्थी हिंदी भाषा के अमात्रिक शब्दों को पढ़ने व लिखने में सक्षम होंगे।
• विद्यार्थी अमात्रिक शब्दों की पहचान कर सकेंगे।
• अमात्रिक शब्दों का उच्चारण करने में सक्षम होंगे।
• चित्रों को देखकर उनका नाम लिख सकेंगे।
• विद्यार्थी अमात्रिक शब्दों का व चित्रों का संबंध स्थापित कर सकेंगे।

 

 

अमात्रिक शब्द useful and child friendly

कट कण कद
कप कब कम
कर कल कस
कहखगखत
गज गण गम
गल घट घन
चख चट चल
छत
छन छल
छत्र जग जन
जप जब जम
जय जल झट
टल टस ठग
ठप डट डर
डल डस ढक
ढल तक तट
तन तप तब
तय तर तल
तह थक थन
थम थल दम
दर दल दस
धन नग नच
नट नथ नभ
नम नर नल
नसपक पग
पट पच पद
पर पल पत्र
फट फन फल
बच बन बम
बल बस बह
भर मग मठ
मत मद मन
मर मलयह 
यज्ञ रच रट
रण रथ रन
रब रस लट
लत लयवक
वट वध वन
वर वह शक
शत शव सच
सज सट सब
सत्र हक हट
हम हर हल
हश्रअमन अजय
अटल अचल अमर
अजय अकल अटक
अनलअक्षर ऊलग
करन कदम कपट
कमल कलश कलम
कसककसर कमर
कहर खतम खबर
गरम गटर गजल
गटक गलतचटक
जहर जखम जलज
बटन बतख मटर
पवन शहरपलक 
पहर भवन नहर
नयन हवन लहर
सड़क कड़क भड़क
अगर मगर इधर
उधर डगर वहम
बहस पकड़ जकड़
झगड़ रबड़ नक्षत्र
अकबर अलवर अनवर
अजगर कसरत शरबत
उबटनपलटन अनबन
हलचल मरहम नटखट
जमघट पनघट सरपट
झटपट दशरथ शलगम
बचपन गड़बड़ अफ़सर
दलदल मलमल डमडम
बरतन अचकन बरगद
टमटम अदरक खटपट
कटहल गरदन
खटमल
जबरनउबटनअनबन

पूर्वज्ञान ( Pre knowledge) –


• अक्षरों की पहचान एवं उच्चारण में सक्षम।
• अक्षरों को लिख पाना।
• आसपास की वस्तुओं की सामान्य जानकारी।
• रंगों को भर पाना।

 

सारांश ( Summary ) –


‘अ’ की मात्रा जिसे हम अमात्रिक मात्रा के रूप में जानते हैं , हिंदी पढ़ते हुए लिखते समय बहुतायत रूप से प्रयोग होते हैं । पढ़ने की शुरुआत करते समय अमात्रिक शब्दों का प्रयोग उपयोगी होते हैं। यह बच्चे को अक्षरों का ज्ञान स्थाई करवाता है। तथा इससे बच्चे के पढ़ने में आत्मविश्वास बढ़ता है। बच्चे बड़ों को देखकर पढ़ने के लिए उत्सुक रहते हैं, कि आखिर बड़े कैसे अखबार और पुस्तकों में लिखी शब्दों को को पढ़ देते हैं। और वह भी स्वयं अनुमान लगाकर पढ़ने की कोशिश करते रहते हैं। ऐसे में जरूरी है कि, हम उनकी ललक को छोटे व सरल शब्दों से पूरा कर सकते हैं।

 

 

 

 

दो अक्षर वाले अमात्रिक शब्द- (Do akshar wale amatrik Shabd)

 

कट कण कद कप कब कम कर कल कस कह
खग खत गज गण गम गल घट घन चख चट चल छत
छन छल छत्र जग जन जप जब जम जय जल झट
टल टस ठग ठप डट डर डल डस ढक ढल तक तट
तन तप तब तय तर तल तह थक थन थम थल दम
दर दल दस धन नग नच नट नथ नभ नम नर नल नस
पक पग पट पच पद पर पल पत्र फट फन फल बच बन बम
बल बस बह भर मग मठ मत मद मन मर मल
यह  यज्ञ रच रट रण रथ रन रब रस लट लत लय वक वट

वध वन वर वह शक शत शव सच सज सट सब सत्र हक हट हम हर हल हश्र


तीन अक्षर वाले अमात्रिक शब्द – (Teen Akshar wale amatrik Shabd)

 

अमन अजय अटल अचल अमर अजय अकल अटक अनल अक्षर ऊलग करन कदम कपट कमल कलश कलम कसक कसर कमर कहर खतम खबर गरम गटर गजल गटक गलत चटक जहर जखम जलज बटन बतख मटर पवन शहर पलक  पहर भवन नहर नयन हवन लहर सड़क कड़क भड़क अगर मगर इधर उधर डगर वहम बहस पकड़ जकड़ झगड़ रबड़ नक्षत्र

 

चार अक्षर वाले अमात्रिक शब्द – (Char Akshar Wale Amatrik Shabd )

 

अकबर अलवर अनवर अजगर कसरत शरबत उबटन पलटन अनबन हलचल मरहम नटखट जमघट पनघट सरपट झटपट दशरथ शलगम बचपन गड़बड़ अफ़सर दलदल मलमल डमडम बरतन अचकन बरगद टमटम अदरक खटपट कटहल गरदन खटमल जबरन



अमात्रिक शब्दों का प्रयोग करते समय निम्न बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए –


• चित्रों से मिलान का हर संभव प्रयास करना।
• अधिक विषयवस्तु एक साथ प्रदान नहीं करनी चाहिए।
• लिखने से पूर्व पढ़ने व पहचान पर कार्य करना चाहिए।
• अक्षरों के उच्चारण व शब्दों के उच्चारण पर ध्यान रखना चाहिए।
• लिखते समय, बोल – बोल कर लिखने का अभ्यास उचित रहता है।
• बातचीत व अनुभवों के आदान – प्रदान को महत्व देना चाहिए।

 

अमात्रिक शब्द वर्कशीट के बारे में (About Amatrik Shabd Worksheet) –


‘अ’ की मात्रा की वर्कशीट की शुरुआत चित्रों से हुई है, जिसे देखकर आराम से शब्दों को बोल – बोल कर पढ़ना होता है। बाद में स्वतंत्र पठन की और बच्चे को अग्रसर करना होता है। चित्रों से शब्दों का मिलान आवश्यक रूप से करना चाहिए। चित्रों पर बातचीत, चित्रों पर बच्चों के अनुभव आवश्यक रूप से शामिल किए जाने चाहिए। यह बच्चों को सक्रिय बनाए रखने में मदद करता है। रटंत आदत से बचाना आवश्यक है। एक ही विषय वस्तु को बार-बार दोहराना बोझिल होता है। अतः यदि कुछ शब्द पढ़ने में नहीं भी आते हो, तो आगे के अन्य कार्यों पर काम किया जा सकता है।

 

बच्चों को बिना उद्देश्य दिया जाने या केवल व्यस्त रखने के लिए दिए जाने वाला कार्य, बच्चे का मानसिक हनन के रूप में होगा। जो कि उस समय की खोज व अनुभव को निगल जाएगा। वर्कशीट में क्रमिक रूप से दो अक्षर वाले, तीन अक्षर वाले और चार अक्षर वाले शब्दों का प्रयोग किया गया है।

 

जिन पर विभिन्न प्रकार कौशल प्रश्न का प्रयोग कर शब्दों का स्थाई बनाने का प्रयास है। शब्दों का वाक्य में प्रयोग करवाना भी सिखाया गया है। वर्कशीट के अंत में एक पेज पढ़ने को व्यवहारिक बनाने के लिए प्रस्तुत किया जा रहा है। जिसे पढ़ने के लिए बच्चों को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। इस वर्कशीट में अन्य मात्राओं का प्रयोग भी किया गया है। जो की बोलचाल और वाक्य रचना की शुरुआत के लिए आवश्यक है।

 

अंत में कुछ प्रश्न दिए गए हैं, जिन पर लिखित व मौखिक रूप से उत्तर दिए जा सकते हैं। प्रत्येक वर्कशीट को भरने के बाद रंगों का प्रयोग करना चाहिए।

 

Download PDF here

 

अमात्रिक शब्द के आधिक्य वाली कहानी-

 

यह अमन का घर है। घर पर जल कम था। वह सड़क से नल पर गया। सड़क पर बस थी। वह एक-एक कदम चला। थरमस में जल भर कर लाया। घर चल कर ठहर गया। फिर शहद का शरबत बनाया। जग पर रख कर लाया। शरबत गजब का था।

 

 

मुख्य बिंदु ( Key Features) –

 

• अमात्रिक शब्द की पहचान तथा उच्चारण के लिए प्रयुक्त स्थान
• अमात्रिक शब्द बनाना,
• अमात्रिक शब्द वाले तुकांत शब्द बनाना,
• अमात्रिक शब्द की शब्द पहेली,
• अमात्रिक शब्द छांटना,
• अमात्रिक शब्द के नाम चित्र देखकर लिखना ,
• अमात्रिक शब्द  के वाक्य,
• अमात्रिक शब्द की कहानी और उस पर संभावित प्रश्न उत्तर,
• सभी शीट पर रंग भरने कार्य
• ‘अ’ की मात्रा की वर्क शीट में कुछ जगह पर खाली जगह छोड़ दी गई है,  जिसे अध्यापक औऱ अभिभावक प्रश्न बदलकर अपने सामने वास्तविक स्थिति के अनुसार मूल्यांकन कर सकते हैं।

 

For Download Other Worksheets : 

Home                                                             Topics

Class KG                                                         Class 1st

Class 2nd                                                       Class 3rd

Class 4th                                                        Class 5th

 

 

क्रियाविधि ( Activities) –


अमात्रिक शब्दों के फ्लैश कार्ड तैयार किए जा सकते हैं। जिन पर एक तरफ चित्र तथा दूसरी तरफ नाम लिखें हो। पहले चित्र दिखाकर बच्चों से उसका नाम पूछें व उस पर अन्य जानकारियां व बच्चों के अनुभव प्राप्त कर लें। अब उसके नाम को कैसे लिखते हैं? इस बात का प्रदर्शन करना चाहिए। और पढ़ कर स्पष्ट उच्चारण करके बच्चों को बताना चाहिए। इसके बाद इसे लिख कर दिखाना चाहिए।

Worksheet में परिवेश में उपलब्ध कुछ आसान शब्दों पर बार – बार अलग तरीके से जोर दिया गया है। जो की मात्रा के प्रयोग और उच्चारण का अधिक अवसर प्रदान करता है। कुछ शब्दों की सरंचना से बच्चा मिलते जुलते अधिक शब्दों का निर्माण करने का प्रयास करेगा। 


             शिक्षक व अभिभावकों से अपेक्षा है, कि वर्कशीट को हल करने में अपना सार्थक सहयोग दें। ताकि बच्चा जल्द से जल्द ‘अ’ की मात्रा में निपुण हो जाए।

            

हमारे प्रयास आपके अनुभवों से और बेहतर हो जाते हैं। अतः अपने comments जरूर दीजिएगा। यह हमें रचनात्मक और उत्साहित बनाए रखने में मदद करता है।  Facebook, Instagram, pinterest और Twitter पर हमें follow कीजिएगा।

धन्यवाद।

 

Related Post: 

 

हिंदी – वर्णमालाअमात्रिक शब्द
'आ' की मात्रा के शब्द‘इ’ की मात्रा
Pattern WritingAlphabets A to Z
‘ई’ की मात्रा ‘उ’ की मात्रा
‘ऊ’ की मात्रा‘ऋ’ की मात्रा
‘ए’ की मात्रा ‘ओ’ की मात्रा
‘ऐ’ की मात्रा ’औ’ की मात्रा
’अं’ की मात्रा’अः’ की मात्रा

2 thoughts on “अमात्रिक शब्द या ‘अ’ की मात्रा – Amatrik Shabd ‘A’ ki matra, Vakya, Worksheet PDF”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *